History - history - ancient

निम्नलिखित में से कौन-सा/से कथन जैन सिद्धान्त के अनुरूप है/हैं ? 1. कर्म को विनष्ट करने काब सुनिश्चित मार्ग तपश्चर्या है | 2. प्रत्येक वस्तु में चाहे वह सूक्षमतम कण हो,आत्मा होती है | 3. कर्म आत्मा का विनाशक है और अवश्य इसका अन्त करना चाहिए |

Articles

वन लाइनर्स ऑफ़

राष्ट्रीय भारत ने इस देश से बादाम, अखरोट

Read more..

बैंकिंग डाइजेस्ट:

राष्ट्रीय भारत ने इस देश से बादाम, अखरोट

Read more..

सिविल सेवा में

सिविल सेवा में लैटरल एंट्री: केंद्र

Read more..

संघर्ष और जलवायु

संघर्ष और जलवायु परिवर्तन की वजह से

Read more..

Provide comments

COPYRIGHT NOTICE: Please do not copy and paste content from here. This content is either purchased or provided by experts. Please report copyright violation of genuine owner of content to [info at onlinetyari.com]. It will be removed within 24 hours after ownership check.

FAIR USE POLICY: You can show our questions on blogs/facebook pages/Any web page/Apps on condition of putting [Source:OnlineTyari.com] below the question.